ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
आशा-आंगनबाड़ी घर-घर ले रहीं लोगों की सेहत की जानकारी, सर्वे और सैंपलिंग में जुटीं 484 टीम
July 10, 2020 • Havlesh Kumar Patel • miscellaneous
शि.वा.ब्यूरो, शामली। जनपद में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा घर-घर सर्वे और सैंपलिंग का कार्य कराया जा रहा है। सीलिंग जोन,शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण इलाकों में आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान की जा रही है। इस स्वास्थ्य सर्वे के तहत 60 वर्ष से ऊपर के वृद्धों के साथ-साथ बुखार,खांसी-जुकाम और सांस लेने में तकलीफ जैसे लक्षणों वाले मरीजों के सैंपल लिए जा रहे हैं। इस काम में विभाग की 484 टीमें लगी हुई हैं।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. संजय भटनागर ने बताया सर्वे की मॉनिटरिंग के लिए सात टीम गठित की गई हैं। इसका नोडल अधिकारी एसीएमओ डॉ. केपी सिंह को बनाया गया है । 484 टीमों को एक प्रारूप दिया गया है, जिसमें घर के प्रत्येक सदस्य की पूरी जानकारी दर्ज की जाती है। जैसे नाम, पता,बीमारी, आयु, कहीं बाहर से तो नहीं आए हैं आदि।
अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. केपी सिंह ने बताया स्वास्थ्य सर्वे के कार्य में आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के अलावा एएनएम की भी मदद ली जा रही है। सभी टीम शहर से लेकर देहात में घर-घर जाकर लोगों से उनकी सेहत की जानकारी ले रही हैं और इस जानकारी को रजिस्टर में दर्ज कर रही हैं। जिन लोगों को खांसी, बुखार, सर्दी-जुकाम और सांस लेने में दिक्कत है, उनके सैंपल लिए जा रहे हैं। जिन घरों में सर्वे का कार्य पूरा कर लिया गया है, उन घरों के बाहर स्टीकर लगाए जा रहे हैं।
सभी टीम को स्वास्थ्य विभाग की ओर से इंफ्रारेड थर्मामीटर और पल्स ऑक्सीमीटर भी उपलब्ध कराए गए हैं। टीम जिस घर में सर्वे कर रही हैं, वहां लोगों के शरीर का तापमान और पल्स की जानकारी अंकित की जा रही है।
जनपद में  166 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि  हुई है, जिनमें 30 एक्टिव केस हैं। 5747 लोगों की जांच की गई। अभी 597 लोगों की रिपोर्ट आना बाकी है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने ऐसे लोगों को चिह्नित किया है, जिन्हें सांस लेने में दिक्कत, बुखार, सर्दी-जुकाम और गले में परेशानी हो रही थी। उनके सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। घर-घर सर्वे का कार्य 15 जुलाई तक चलेगा।