ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
बदायूँ पहुँचने पर अखिल भारतीय कूर्मि क्षत्रिय महासभा के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व सांसद बालकुमार पटेल का जगह-जगह हुआ भव्य स्वागत
September 11, 2020 • Havlesh Kumar Patel • UP
शि.वा.ब्यूरो, बदायूँ/शाहजहांपुर। अखिल भारतीय कूर्मि क्षत्रिय महासभा के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व सांसद बालकुमार पटेल, राष्ट्रीय कार्यसमिति के सदस्य मानसिंह पटेल उत्तर प्रदेश में संगठन विस्तार पर बदायूँ पहुँचने पर जगह जगह रास्ते मे कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। बदायूँ के नगला मन्दिर व एस एस मैरेज हाल अकबरी शाहजहांपुर में आयोजित जिलास्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन तथा तिलहर में आयोजित बैठक को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आपसी मतभेदों को भूल समाज को आज एक प्लेटफार्म पर आने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बिना मजबूत सामाजिक संगठन के समाज की ताकत का एहसास नही कराया जा सकता। उन्होंने कहा कि अखिल भारतीय कूर्मि क्षत्रिय महासभा ने जो प्रदेश की जिम्मेदारी मुझे सौंपी है, उस जिम्मेदारी को निभाते हुए आप सब लोगों को साथ लेकर प्रदेश में मजबूत समाज का संगठन खड़ा करने का प्रयास किया जा रहा है। श्री पटेल ने कहा कि आजादी के बाद हमारे समाज को किसी क्षेत्र में आनुपातिक हिस्सेदारी नही मिली है, जीवन के हर क्षेत्र में समुचित भागीदारी सुनिश्चित कराने के लिए मजबूत संगठन होना बहुत जरूरी है। 
राष्ट्रीय कार्यसमिति के सदस्य मानसिंह पटेल ने सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि 126 साल से चल रहे अखिल भारतीय कूर्मि क्षत्रिय महासभा ने आज उत्तर प्रदेश की बागडोर बालकुमार पटेल को सौंपकर जिस संगठन की कल्पना की थी वह धरातल पर दिखाई पड़ने रहा है, उन्होंने 2 महीने में उत्तर प्रदेश के 50 जिलों व 8 मण्डलों के संगठन का विस्तार कर समाज मे जो सन्देश देने का काम किया है, वे निश्चित रूप से बधाई के पात्र हैं। इस अवसर पर ओम पाल सिंह पटेल को बदायूं का जिलाध्यक्ष व प्रताप सिंह पटेल को जिला महासचिव तथा अमरसेन गंगवार को शाहजहांपुर का जिलाध्यक्ष व  एडवोकेट रामपाल गंगवार को जिलामहासचिव की जिम्मेदारी सर्वसम्मति से सौंपी गई।
इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष पवन पटेल, सत्यप्रकाश पटेल, प्रदेश सचिव डा. भरत पटेल, संगठन मंत्री अनिल पटेल, प्रदेश युवाध्यक्ष सुनील पटेल, महासचिव अवधेश पटेल, राहुल पटेल अरुण पटेल, रूपेंद्र पटेल, हरेंद्र पटेल, राजीव पटेल, अनिल पटेल, कल्याण गंगवार, जगदीश गंगवार, धर्मवीर गंगवार सहित तमाम लोगों ने विचार व्यक्त किये।