ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
डीएम सेल्वा कुमारी जे. ने की चीनी मिलों के अध्यासियों के साथ बैठक, मिल शुरू होने से पूर्व सम्पूर्ण बकाया गन्ना मूल्य भुगतान करने के निर्देश, भैसाना चीनी मिल प्रबन्धक को फटकारा
October 1, 2020 • Havlesh Kumar Patel • Muzaffarnagar

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. ने सभी चीनी मिलों के प्रतिनिधियों के साथ कलैक्ट्रेट सभागार में गन्ना मूल्य भुगतान, किसानों मे चीनी वितरण एवं आगामी पेराई सत्र हेतु चीनी मिलों के संचालन की तैयारियों की समीक्षा गयी। समीक्षा में पाया गया कि वर्तमान में चीनी मिल भैसाना पर 20548.15 लाख, चीनी मिल खतौली पर 11358.83 लाख, चीनी मिल तितावी पर 7927.78 लाख, चीनी मिल मन्सूरपुर पर 9044.60 लाख, चीनी मिल टिकौला पर 1890.58 लाख, चीनी मिल खाईखेडी पर 4176.53 लाख, चीनी मिल मोरना पर 2983.97 लाख तथा चीनी मिल रोहाना पर 1695.86 लाख अवशेष है। जिलाधिकारी ने सभी चीनी मिलों को मिल चालू होने से पूर्व सम्पूर्ण बकाया गन्ना मूल्य भुगतान करने के कडे निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने सभी मिल प्रतिनिधियों को चेतावनी दी कि यदि उनके द्वारा शीघ्र सम्पूर्ण गन्ना मूल्य भुगतान नही किया गया तो उनके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही प्रस्तावित कर दी जायेगी। जिलाधिकारी ने भैसाना चीनी मिल प्रबन्धक को कडी फटकार लगाते हुए एसक्रों अकांउट में सीधे भुगतान के निर्देश दिये।  


बैठक में आगामी पेराई सत्र 2020-21 के संचालन की तैयारियो की समीक्षा की गई। मिल प्रतिनिधियों ने अवगत कराया कि खतौली 28 अक्टूबर, तितावी 29 अक्टूबर, भैसाना 24 अक्टूबर, मंसूरपुर 25 अक्टूबर, टिकौला 29 अक्टूबर, खाईखेडी 28 अक्टूबर, रोहाना 30 अक्टूबर तथा मोरना 27 अक्टूबर को चालू हो जायेगी। उन्होने बताया कि अधिकतर मेन्टीनेन्स कार्य पूर्ण किया जा चुका है।  जिलाधिकारी ने सभी चीनी मिलों को कोविड संक्रमण से बचाव हेतु आवश्यक उपाय करने एवं सरकार द्वारा जारी गाइडलाईन का पालन करने के भी निर्देश दिये गये। उन्होने जिला गन्नाधिकारी को निर्देश दिये कि मिल प्रारम्भ होने से पूर्व सभी चीनी मिलों की चैकिंग कर स्टेटस रिपोर्ट प्रस्तुत की जाये। उन्होने निर्देश दिये मिल प्रारम्भ होने के उपरान्त तकनीकी कारणों से बन्द नही होनी चाहिए। इसके लिए पूर्व में सब तैयारिया पूर्ण कर ली जाये।


बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह, जिला गन्ना अधिकारी डा. आर.डी. सहित सभी चीनी मिलों के प्रबन्धक उपस्थित रहे।