ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
हिंदी पखवाड़े के समापन पर बोले पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव, कहा- हिन्दी सिर्फ एक भाषा ही नहीं बल्कि हम सबकी पहचान है
September 28, 2020 • Havlesh Kumar Patel • UP

शि.वा.ब्यूरो, वाराणसी। सृजन एवं अभिव्यक्ति की दृष्टि से हिंदी दुनिया की अग्रणी भाषाओं में से एक है। हिन्दी सिर्फ एक भाषा ही नहीं बल्कि हम सबकी पहचान हैयह हर हिंदुस्तानी का हृदय है। भारतीय संस्कृति को अक्षुण्ण रखने में हिंदी का बहुत बड़ा योगदान है। जरूरत इस बात की है कि हम इसके प्रचार-प्रसार और विकास के क्रम में आयोजनों से परे अपनी दैनिक दिनचर्या से भी जोड़ें। उक्त उद्गार पोस्टमास्टर जनरल एवं चर्चित साहित्यकार व ब्लॉगर कृष्ण कुमार यादव ने डाक विभाग द्वारा आयोजित हिंदी पखवाड़ा के समापन समारोह में व्यक्त किये। इस अवसर पर उन्होंने पखवाड़े के दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को सम्मानित भी किया।

पोस्टमास्टर जनरल ने कहा कि हिन्दी अपनी सरलतासुबोधतावैज्ञानिकता के कारण ही आज विश्व में दूसरी सबसे बड़ी बोली जाने वाली भाषा है। हिन्दी सिर्फ साहित्य ही नहीं, बल्कि विज्ञान से लेकर संचार-क्रांतिसूचना प्रौद्योगिकी और नवाचार की भाषा भी है। हिंदी हमारी मातृभाषा के साथ-साथ राजभाषा भी है और लोगों तक पहुँच स्थापित करने के लिए टेक्नॅालाजी स्तर पर इसका व्यापक प्रयोग करने की जरूरत है। श्री यादव ने कहा कि आज परिवर्तन और विकास की भाषा के रूप में हिन्दी के महत्व को नये सिरे से रेखांकित किया जा रहा है। जैसे-जैसे विश्व में भारत के प्रति दिलचस्पी बढ़ रही हैवैसे-वैसे हिन्दी के प्रति भी रुझान बढ़ रहा है।

सहायक निदेशक (राजभाषा) प्रवीण प्रसून ने  कहा कि संविधान में वर्णित सभी प्रांतीय भाषाओं का पूर्ण आदर करते हुए इस विशाल बहुभाषी राष्ट्र को एक सूत्र में बांधने में भी हिन्दी की एक महत्वपूर्ण भूमिका है। ऐसे में हिन्दी भाषा के प्रयोग पर हमें गर्व महसूस करना चाहिए। वाराणसी मंडल के प्रवर डाकघर अधीक्षक सुमीत कुमार गट्ट ने कहा कि हिंदी पूरे देश को जोड़ने वाली भाषा है और सरकारी कामकाज में भी इसे बहुतायत में अपनाया जाना चाहिये। वाराणसी पश्चिमी मंडल के अधीक्षक डाकघर राम मिलन ने कहा कि यह हम सभी के लिए सौभाग्य का विषय है कि हमारे नवागत पोस्टमास्टर जनरल ने चर्चित साहित्यकार व ब्लॉगर रूप में अपनी रचनात्मक प्रतिबद्धता व अग्रणी सोच से हिंदी साहित्य जगत में एक नया मुकाम बनाया है। आपके नेतृत्व में वाराणसी परिक्षेत्र नई ऊँचाइयों को छुयेगा।

हिंदी पखवाड़ा के दौरान आयोजित कार्यक्रम के विजेताओं को पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने सम्मानित भी किया। हिंदी निबंध प्रतियोगिता में प्रकाश गुप्तामनीष कुमार, अभिलाषा राजनहिंदी टंकण प्रतियोगिता में अजिता, राकेश कुमार, विजय त्रिपाठी, वाद-विवाद प्रतियोगिता में मनीष कुमारशम्भू गुप्ताललित कुमारहिंदी पत्र लेखन प्रतियोगिता में श्रवण कुमारराहुल कुमारविजय त्रिपाठी एवं काव्य पाठ प्रतियोगिता में अजिताश्रवण कुमारराजीव वर्मा को क्रमशः प्रथमद्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में प्रवर अधीक्षक डाकघर पूर्वी मंडल वाराणसी सुमीत कुमार गट्टडाक अधीक्षकवाराणसी पश्चिमी मंडल राम मिलनसहायक निदेशक (राजभाषा) प्रवीण प्रसून समेत शम्भू राय, सहायक अधीक्षक अजय कुमारडाक निरीक्षक बृजेश कुमार शर्माराकेश कुमारराजेन्द्र यादव सहित तमाम विभागीय अधिकारीकर्मचारी उपस्थित रहे।