ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
जनपद की नोडल अधिकारी व मेरठ की मण्डलायुक्त अनीता सी मेश्राम ने दिए निर्देश, कहा-सभी निगरानी समितियां सक्रिय रहकर प्रभावी ढंग से करें कार्य, डीपीआरओ व बीडीओ मिलकर तैयार करें लिक्विड वेस्ट मेनेजमैंट प्लान
July 12, 2020 • Havlesh Kumar Patel • Muzaffarnagar

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। नोडल अधिकारी/मण्डलायुक्त मेरठ अनीता सी. मेश्राम ने आज लगातार तीसरे दिन जनपद में समस्त शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में सघन रूप से चलाये जा रहे विशेष स्वच्छता, सफाई एवं सेनेटाइजेशन अभियान का खतौली ब्लाॅक के ग्राम बेगराजपुर में जाकर जायजा लिया। प्राथमिक विद्यालय बेगराज में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि सभी निगरानी समितियां पूर्ण सक्रिय रहकर प्रभावी ढंग से कार्य करें। इस पर विशेष ध्यान दिया जाये। कोविड-19 एवं अन्य संक्रामक बीमारियों, संचारी रोगो से बचाव के लिये ग्रामवासियों को जागरूक करें। उनहोने कहा कि बाहर से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति का रजिस्टर में नाम, पता, मोबाइल नं0 दर्ज कर उसकी जांच अवश्य कराई जाये। गांव के प्रत्येक घर का भलीभांति सर्वे किया जाये। कोरोना वायरस से बचने के लिये सभी लोगों को मास्क या गमछे से अपना मुंह व नाक ढकने, अपने रहन सहन और खानपान में साफ सफाई रखने और सोशल डिस्टेंस का पालन करते रहने के लिये प्रेरित किया जाये। प्रवासी मजदूरों को मनरेगा कार्यों में लगाकर रोजगार दें तथा  प्रशिक्षित कामगारों को अन्य कार्यों में लगाकर रोजगार उपलब्ध करायें। जिससे वे अपने परिवार का पालन पोषण कर सकें।


नोडल अधिकारी ने कहा कि संचारी रोग, संक्रामक बीमारियों के साथ कोविड-19 का प्रभाव बेहद खतरनाक हो सकता है। स्वच्छता, सेनेटाइजेशन तथा शुद्व पेयजल की उपलब्धता इन संक्रामक बीमारियों पर नियंत्रण में सहायक होंगे। हर एक राजस्व ग्राम, मजरों में और वार्ड वार सफाई, फोगिंग एवं एण्टी लार्वा स्प्रे की व्यवस्था की जाये। कहीं जलभराव और गंदगी न रहे। शुद्व पेयजल हेतु इण्डिया मार्का हैण्डपम्प का प्रयोग करें। हैण्डपम्पों और टंकियों के आसपास समुचित सफाई रखी जाये। स्वच्छता कार्य आगे में भी चलता रहेगा। उन्होने कहा कि गांव से गीले व सूखे कूडे के निस्तारण की उचित व्यवस्था की जाये। कही पर भी जलभराव न हो और नाली का पानी कही पर भी अवरूद्व न होने पाये। उन्होने निर्देश दिये कि डीपीआरओ व बीडीओ मिलकर लिक्विड वेस्ट मेनेजमैंट प्लान तैयार करें।


इस अवसर पर उन्होने कोविड हैल्प डैस्क व स्वंय सहायता समूह द्वारा तैयार की गई वस्तुओं, माॅस्क, आयुष काढा, स्कूल ड्रेस, पीपीई किट व सैनेटाईजर का निरीक्षण कर समूह की महिलाओं के साथ संवाद कर उसकी बिक्री व अन्य बातों के सम्बन्ध में चर्चा की। बीडीओ खतौली ने बताया कि गांव में 550 घरो का सर्वे हो चुका है शेष घरो का सर्वे शीघ्र पूर्ण करा लिया जायेगा। गांव की आबादी 3763 है। पेयजल की समीक्षा करते हुए जल निगम के अधिकारी ने बताया कि शुद्व पेयजल उपलब्ध कराने के लिए ग्रामीण पेयजल परियोजना के अन्तर्गत गांव में 5.6 किमी लम्बी पाईपलाईन डाली गई है शीघ्र ही ओवरहैड टैक का निर्माण कार्य शुरू किया जायेगा। गांव में 48 हैण्डपम्प है, जिसमें 3 खराब है, उन्हे शीघ्र ठीक कराया जायेगा।


इसके पश्चात नोडल अधिकारी ने जानसठ पहुंच वहां नगर पंचायत द्वारा की जा रही सफाई व्यवस्था का भी निरीक्षण किया। उन्होने ई ओ को निर्देश दिये कि सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जाये इसमे किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाये। उनहोने कहा कि इस अभियान मे पूर्ण मनोयोग से सफाई कराई जाये ताकि बरसात के मौसम में गन्दगी न हो। उनहोने निर्देश दिये कि सडक का कूडा नाली में नही जाना चाहिए। उन्होने कहा कि सभी नालियों की सफाई कराई जाये, तालाबों की सफाई कराई जाये।
इस अवसर पर जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे, मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 प्रवीण चोपडा, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिह सहित सम्बन्धित एसडीएम, बीडीओ व अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।