ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
जनपद में सम्मानपूर्वक आयोजित किया जायेगा गांधी जयन्ती समारोह 
September 30, 2020 • Havlesh Kumar Patel • Muzaffarnagar

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने सभी कार्यालयध्यक्षों को निर्देश दिये हैं कि भारत की राजनीतिक-सामाजिक एकता व समरसता के पुरोधा, महान आधुनिक भारत राष्ट्र के स्वप्त को साकार रूप प्रदान करने वाले स्वप्नद्रष्टा महात्मा गांधी का जन्म दिवस पूर्व की भांति इस वर्ष भी 02 अक्टूूबर 2020 को गांधी जयन्ती समारोह सम्मानपूर्वक आयोजित किया जायेगा, परन्तु वर्तमान में कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत भारत सरकार एवं उ0प्र0 द्वारा जारी गाइडलाईन का अनुपालन करते हुए गांधी जयन्ती समारोह आयोजित किया जायेगा। सभी राजकीय भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जायेगा। सभी कार्यालयों, विद्यालयो और दूसरी संस्थाओं के किसी बडे कक्ष या हाॅल में किसी वरिष्ट अधिकारी, प्रधानाचार्य या अध्यक्ष द्वारा  प्रातः 8 बजे महात्मा गांधी के एक बडे चित्र का अनावरण व माल्यार्पण किया जाये और उसके बाद गांधी जी के जीवन-संघर्ष, उनकी देश-सेवा, उनके जीवन-मूल्यों पर प्रकाश डाला जाये। विशेष रूप से निर्बलो क कल्याण सम्बन्धी अन्त्योदय की उनकी अवधारणा, भावनात्मक एकता, राष्ट्र एकता एक अखण्डता के सम्बन्ध में उनकी विचारो को संक्षेप में प्रस्तुत किया जाये।
जिलाधिकारी ने कहा कि जातिगत भेद-भाव से दूर रहकर समाज में समता और समरसता लाने पर बल दिया जाये। मानवाधिकारो की सुरक्षा तथा निर्बलो के उत्पीडन को समाप्त करने और सामाजिक न्याय की अवधारणा एवं उसकी आवश्यकता की पूर्ति हेतु शासन की प्रतिबद्वता से जन साधारण को अवगत कराया जाये। महिलाओं की उन्नति के लिए गांधी जी द्वारा बताये गये मार्ग का अवलम्बन करने, बालिका शिक्षा के प्रसार, दहेज प्रथा की समाप्ति तथा महिलाओं को आर्थिक सामाजिक क्षेत्र में आगे बढने का अवसर देने के लिए सामाजिक चेतना पैदा करने के लिए महिला सशक्तिकरण के उदेश्यों से जनसामान्य, विशेषकर महिलाओं को भिज्ञ कराने हेतु प्रभावी अभियान चलाया जाये। गांधी जी की ग्राम स्वराज्य की अवधारणा के अनुसार गांवो को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने तथा मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के साथ ही ग्रामवासियों में सच्चरित्रता,सादगी तथा स्वावलम्बन की भावना उत्पन्न की जाये। इस दिशा मे शासन की पारदर्शिता नीति और इस सम्बन्ध में किये गये अभिनव एवं सार्थक प्रयासों से भी जनसाधारण को अवगत कराया जाये। गांधी जी के नेतृत्व में चलाये गये स्वाधीनता, आन्दोलन, उ0प्र0 में उसके व्यापक प्रभाव, गांधी जी द्वारा दिये गये रचनात्मक कार्यक्रमों, स्वदेशी आन्दोलन, नमक सत्याग्रह, व्यक्तिगत सत्याग्रह आदि पर प्रकाश डाला जाये। सादा जीवन उच्च विचार, मितव्ययिता, नैतिकता, भाईचारा तथा सर्वधर्म समभाव जैसे आदर्श जीवन-मूल्यों को अपनाने की प्रेरणा दी जाये। उन्हे यह भी समझाया जाये कि देश को कमजारे करने वाली शक्तियो से सावधान रहते हुए राष्ट्रीय अस्मिता की रक्षा करना हम सब का पुनीत कर्तव्य है जिसका संकल्प आज के दिन दोहराया जाना चाहिए। पंथ-निरपेक्ष् की मूल अवधारणाओं पर प्रकाश डालते हुए लोगो को प्रेरणा दी जाये कि देश और समाज का निर्माण प्रेम तथा सद्भाव से होता है, घृणा से नही, मेल जोल से होता हे बैर-भाव से नही, एक दूसरे के धर्म का आदर करने से होता है अनादर से नही।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि सभी अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत, जनपद में स्थापित गांधी जी की प्रतिमाओं के साथ साथ समस्त महापुरूषों की प्रतिमाओं की साथ सफाई प्रातः 8 बजे पूर्व कराना सुनिश्चित करे। समस्त नगर पालिका एवं नगर पंचायत द्वारा विशेष सफाई अभियान चलाया जाये। अतः 02 अक्टूबर 2020 को गांधी जयन्ती समारोह के अवसर पर इन कार्यक्रमों को अपने अपने कार्यालयों में कोविड-19 से सम्बन्धित गाइडलाइन का अनुपालन सुनिश्चित करते हुए आयोजित कराने का कष्ट करे।