ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत मण्डलायुक्त ने की अधिकारियों संग समीक्षा बैठक, कहा-शत प्रतिशत सैम्पलिंग की जाये, आईसीयू में भर्ती मरीजों के परिजनों को दिन में 2 बार स्वास्थ्य की जानकारी दी जाये
September 30, 2020 • Havlesh Kumar Patel • Muzaffarnagar

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। मण्डलायुक्त संजय कुमार ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि प्रत्येक दिन मुजफ्फरनगर मेडिकल काॅलेज के मेडिकल स्टाॅफ, प्राचार्य व जिला प्रशासन के अधिकारी कोरोना के बढ रहे संक्रमण के दृष्टिगत आवश्यक बैठक कर प्रत्येक दिन कोरोना संक्रमित मरीजों से उनके स्वास्थ्य व अन्य विषयों पर बात करेगे। उन्होने निर्देश दिये कि आईसीयू में भर्ती मरीजों के परिजनो को मरीज के स्वास्थ्य के सम्बन्ध में दिन में 2 बार जानकारी दी जाये। उनके स्वास्थ्य का प्रत्येक स्तर पर ध्यान रखा जाये। उन्होने निर्देश दिये कि मुख्य चिकित्साधिकारी वार्ड में जाकर स्वंय विजिट करे। उन्होने कहा कि शौचालयों की नियमित सफाई कराई जाये। पल्स ऑक्सीमीटर व टैम्परेचर दिन में 2 बार चैक किया जाये। उन्होने निर्देश दिये कि एल-1 कोविड फैसिलिटी में सीनियर डाक्टर विजिट करेगे और वहां पर पोर्टेबल एक्सरे मशीन की व्यवस्था की जाये। एल- 1 फेसेलिटि में कोविड पेशेन्ट का छाती का एक्सरे किया जाये। उन्होने निर्देश दिये कि कोरोना से हुई प्रत्येक मृत्यु का गहनता के साथ आडिट किया जाये। मृत्यु के कारणों का बारीकी से अध्यन किया जाये। उन्होने कहा कि मौसम में बदलाव आ रहा है इसलिए गर्म पानी की व्यवस्था व सीसीटीवी कैमरें प्रत्येक दशा में लगवाये जाये। सफाई कर्मियों का रोस्टर जारी किया जाये।


मण्डलायुक्त संजय कुमार आज कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत कलैक्ट्रेट सभागार में नोडल अधिकारियों, जिलाधिकारी व अन्य अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होने निर्देश दिये कि पाजिटिव व्यक्ति मिलने पर उनके घर के आस पास व घर के सदस्यों का तत्काल सैंम्पल एकत्र किया जाये। इसके किसी भी प्रकार की कोई शिथिलता न बरती जाये। उन्होने कहा कि शहरी क्षेत्र व ग्रामीण क्षेत्रों मे पाॅजिटिव मिलने पर तत्काल सैनेटाइजेशन की कार्यवाही की जाये। सैनेटाईजेशन निरन्तर कराया जाये। सैम्पलिंग व काॅनटैक्ट ट्रेसिंग में कोई शिथिलता न बरती जाये। उन्होने कहा कि कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत ग्रामों में साफ सफाई, वार्डो व गांवों में नियमित सफाई तथा वार्डो में फाॅगिग व सैनेटाईजर छिडकाव निरन्तर कराया जाये। उन्होने निर्देश दिेये कि कोरोना पाॅजिटिव मिलने पर तत्काल सैनेटाईजेशन की कार्यवाही की जाये। ग्राम स्तर पर साफ-सफाई, हाथ धोना, शौचालय की सफाई तथा घर से जल निकासी के लिए, शुद्ध पेयजल की व्यवस्था आदि की जाये। इस अभियान में कोविड-19 रोग के संक्रमण के दृष्टिगत विशेष सावधानियां अपनाते हुए आवश्यक निर्देशों का अनुपालन किया जाये। उन्होने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु और अधिक प्रचार प्रसार कराया जाये।


इस अवसर पर जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे, नोडल अधिकारी डा0 इन्द्रमणि त्रिपाठी, एसजीपीजीआई के डाॅक्टर, मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 प्रवीण चोपडा, अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 आलोक कुमार, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिह सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।