ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
मैंने सीखा बापू से (गांधी जयंती 2 अक्टूबर पर विशेष)
October 1, 2020 • Havlesh Kumar Patel • miscellaneous
दिलीप भाटिया, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।
 
बचपन में दो अक्टूबर को बापू पर निबंध प्रतियोगिता में कई पुरस्कार मिले। विद्यालय पुस्तकालय में सत्य के प्रयोग उनकी आत्मकथा मिली तो उस अनमोल पुस्तक को कई बार पढ़ा। सीखने के लिए बहुत कुछ मिला बापू की जीवनी में। समय प्रबंधन की शिक्षा बापू से मिली। कोई लेने नहीं आ पाया तो स्वयं ही साइकिल से समय पर आयोजन में पहुंच गए। प्रार्थना सभा में कभी भी प्रतीक्षा नहीं करवाई। उनसे सीख समय प्रबंधन का पाठ अब में विद्यालयों में बांट रहा हूं। समय पर अपनी प्रकाशित पुस्तक बच्चों को वॉट्सएप पर उपहार स्वरूप भेजता हूं। बापू से दूसरी शिक्षा सादगी की सीखी। बापू की सादगी अनुकरणीय उदाहरण है। मेरा प्रयास रहता है कि सादगी जीवन में जितना भी संभव है पालन करता रहूं। सादगी सर्वश्रेष्ठ फैशन है। कोई प्रदर्शन की आवश्यकता नहीं। सरलता सादगी से जीवन में एक अनुपम अनुभव प्राप्त होता है। समाज में पहचान सत्कर्म से होती है। बापू का ह्रदय से आभार प्रकट करता हूं कि उन्होंने मुझे सादगी का पाठ सिखाया।
देश की सेवा के लिए बापू ने अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया। भारत की स्वतंत्रता में उनका योगदान एक अनुपम मिसाल है। सूर्य समान उनकी देश सेवा के समक्ष एक नन्हे दीपक का धर्म निभाने का प्रयास कर जीवन संध्या को सार्थक कर संतुष्टि मिल रही है। परमाणु ऊर्जा के शांतिपूर्ण सदुपयोग पर एवम् विद्यार्थियों को कैरियर चुनाव में मार्गदर्शन प्रदान कर कई बच्चों की समस्या का समाधान कर रहा हूं। सत्य के प्रयोग पुस्तक की कई प्रतियां बच्चों को जन्म दिन पर उपहार स्वरूप देता रहता
हूं।  ईमेल पर भी सॉफ्ट कॉपी भेजता रहता हूं। बापू अमर हैं। सीखने के लिए तो बहुत कुछ है उनसे। पत्र लेखन एवम् हर पत्र का उत्तर देना भी मैंने बापू से सीखा। बापू जयंती 2 अक्टूबर 2020 पर पुनः संकल्प करता हूं कि बापू की आत्मकथा सत्य के प्रयोग को कुछ और विद्यार्थियों को उपहार स्वरूप प्रदान करता रहूं।
समय प्रबंधन सादगी को स्वयं अपने जीवन में अपना कर विद्यार्थियों को भी प्रेरित करने का प्रयास कर अपनी जीवन संध्या को सार्थक करने की कोशिश करूंगा।
सेवानिवृत्त परमाणु वैज्ञानिक अधिकारी परमाणु बिजलीघर रावतभाटा
238 बालाजी नगर, रावतभाटा, राजस्थान