ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
पहले देना सीखो
September 11, 2020 • Havlesh Kumar Patel • miscellaneous
दिलीप भाटिया, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।
 
क्या आज आपका जन्मदिन है ? चिंता मत करिए। निमंत्रण बिना मिठाई खाने नहीं आ रहा हूं। मात्र इतनी सी प्रार्थना है कि अगर है तो समीप के ब्लड बैंक में जाकर रक्तदान कर आज के शुभ दिवस को सार्थक करिएगा। करीब पैतालीस वर्ष पूर्व पत्नी के ऑपरेशन के लिए रक्त की आवश्यकता हुई। अट्ठाइस वर्ष की आयु में मुझे खून देने लेने की कोई जानकारी नहीं थी। मेरी अम्मा ने कहा- कैलाश! पहले देना सीखो, फिर मिलेगा। मात्र खून के लिए ही नहीं यह तो जीवन की हर आवश्यकता के लिए मूल मंत्र था। एक मित्र के रक्तदान से पत्नी को नवजीवन मिला। इसके बाद हर शिविर में जीवनदान हेतु रक्तदान करने लगा। ब्लड बैंक एवम् व्यक्तिगत जरूरत पर भी पुण्य कार्य करने लगा। कई सुहाग बचाएं। कई बहनों की राखी सुरक्षित कीं। कई भाभियों के सिंदूर बचाए। कई कैंसर मरीजों की जीवन अवधि बढ़ाई। कोई कमजोरी महसूस नहीं हुई। हीमोग्लोबिन हमेशा पंद्रह रहा। अभी भी चौदह है। ब्लड शुगर भी फास्टिंग अस्सी के आसपास ही रहती है। जीवन में उनसठ फिफ्टी नाइन बार रक्तदान कर अपनी परमाणु नगरी रावतभाटा में सर्वाधिक रक्तदान का रिकॉर्ड है।
सरकारी नियमों से रक्तदान वाले दिन स्पेशल अवकाश की सुविधा उपलब्ध थी पर कई बार जिम्मेदारी के कारण संभव नहीं हो सकता था अवकाश लेना। उच्च अधिकारी स्पष्ट आदेश दे देते थे कि ट्रांसपोर्ट से गाड़ी लेकर जाइए रक्तदान कर वापिस ड्यूटी आइए। नगर में कई व्यक्तियों को अपने अनुभव से प्रेरित करता रहता हूं। आगामी 26 दिसंबर को 74 वें वर्ष में प्रवेश करूंगा। जीवन की इस अवस्था में अब ब्लड बैंक मेरी सेवा स्वीकार नहीं करते। यह मेरे मन की पीड़ा है। एक अनजानी महिला के पति के ऑपरेशन के लिए रक्त दिया था।
रक्तदान ने मेरे जीवन में कई बहनें भाभी बेटियों भाई अंकल आंटी को जोड़ा। कैंसर हॉस्पिटल जयपुर से अभी भी फोन आते हैं। पर रक्तदान की 18 से 65 वर्ष की अवधि पूरी हो चुकी है। उनकी सहायता नहीं कर सकता। मन दुखी हो जाता है। इस आलेख के पाठक पाठिकाओं से अनुरोध है कि संभव हो तो आप भी अपने सुरक्षित रक्त से किसी का जीवन बचाएं।
2020 रक्तदान दिवस के लक्ष्य सुरक्षित रक्त बचाएं जीवन को सफल बनाने में अपना योगदान दे कर एक नेक कार्य कर पुण्य कर्म करने का प्रयास कर कुछ जीवन बचायेगा। प्रति तीन माह में एक बार कर सकते हैं। 18 से 65 वर्ष का कोई भी व्यक्ति जिसका वजन 45 किलोग्राम से अधिक है व हीमोग्लोबिन 12 से अधिक है एवम् कोई बीमारी नहीं है वह सक्षम समर्थ है रक्तदान के लिए। रक्तदान करते समय डॉक्टर स्वयं ही आपकी जानकारी प्राप्त करने पर ही अनुमति प्रदान करेंगे। तो फिर आज नहीं है तो निराश मत होइए अपने अगले जन्मदिन पर अवश्य कर मुझे वॉट्सएप 9461591498 पर फोटो भेजिएगा। सब काम छोड़ कर जीवन बचाने अवश्य जाइएगा। आशीर्वाद दुआओं प्राप्त कर मन को जो संतोष आप को प्राप्त होगा वह अनमोल होगा व आपके मित्रों सहेलियों रिश्तों के लिए अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत कर एक अलौकिक अनुभव प्राप्त करेंगे। हैप्पी ब्लड डोनेशन। 
                                                        
सेवानिवृत्त परमाणु वैज्ञानिक अधिकारी राजस्थान परमाणु बिजली घर रावतभाटा 238 बालाजी नगर रावतभाटा राजस्थान