ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
श्री बालाजी सत्यधाम पीठाधीश्वर प्रेमजी महाराज ने पालघर के दोषियों को सजा दिलाने का अभियान जारी रखने का निश्चय लिया
July 19, 2020 • Havlesh Kumar Patel • National


शि.वा.ब्यूरो, गोरखपुर। महाराष्ट्र के पालघर स्थित गढचिंचाले गांव में 16 अप्रैल को किसी परिचित के अंतिम संस्कार में शामिल होनेें शामिल होने जा रहे दो साधुओं सुशील गिरी महाराज (35) व चिकने महाराज कल्पवरुक्ष गिरी सहित उनके ड्राईवर नीलेश तेलगाडे की बच्चा चोर होने संदेह में 200 लोगों की भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में पूरे देश से उठ रहे विरोध के चलते आखिर मामले को महाराष्ट्र पुलिस के आपराधिक जांच विभाग (सीआईडी) के हवाले कर दिया गया था। इस मामले में श्री बालाजी सत्यधाम पीठाधीश्वर प्रेमजी महाराज भी सोशल मीडिया पर लगातार तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे। प्रेमजी महाराज देशहित, धर्महित व समाजहित के मुद्दों को हमेशा उठाने रहने के लिए प्रख्यात् हैं।
प्रेमजी महाराज की मानें तो उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से पालघर में हुई दो साधुओं की हत्या के दोषियों को दण्ड़ दिलाने के लिए एक अभियान चला रखा है। उनके अनुसार शायद उनकी आवाज में कई न्यूज चैनलों ने अपनी आवाज मिलाकर देश को जगाने का काम किया है। शायद इसी का परिणाम है कि इस मामले में दोषी पाये गये 35 पुलिसकर्मियों का तबादला कर दिया गया है और हत्याकाण्ड़ के ठीक तीन महीने बाद महाराष्ट्र सीआईडी ने अदालत में 126 आरोपियों के खिलाफ 4,955 पन्ने का आरोपपत्र दाखिल किया है। सीआईडी ने 808 संदिग्धों और 118 गवाहों से पूछताछ करने के बाद आरोपियों के खिलाफ मजबूत साक्ष्य जुटाए हैं। इस मामले में 154 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। प्रेमजी महाराज ने कहा है कि दोषियों को सजा दिलाने तक अभियान जारी रहेगा। प्रेमजी महाराज ने धर्म, समाज और देशहित से जुड़े पालघर के मुद्दे को प्रमुखता के साथ उठाने के लिए जी न्यूज समाचार चैनल को साधुवाद दिया है।


बता दें कि पालघर के गड़चिंचले गांव में 16 अप्रैल की रात को हुई वारदात के वीडियो ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था। घटना के एक वीडियो में 65 वर्षीय महंत भीड़ से अपनी जान बचाने के लिए पुलिस का हाथ थामे चल रहे थे, लेकिन पुलिसकर्मी ने इनका हाथ छुड़वाकर कथित रूप से उन्हें भीड़ को सौंप दिया। इसके बाद इस भीड़ ने जूना अखाड़े के दो साधुओं महंत सुशील गिरी महाराज (35 वर्ष), 65 वर्षीय महंत महाराज कल्पवृक्ष गिरी और 30 वर्षीय ड्राइवर निलेश तेलगडे की पीट-पीटकर हत्या कर दी। इस मामले में जांच कर रही सीआईडी ने दहाणु कोर्ट में दो अलग-अलग चार्जशीट दाखिल की हैं। सीआईडी ने 126 लोगों के खिलाफ पहली चार्जशीट 4995 पन्नों की जबकि 5921 पन्नों की दूसरी चार्जशीट अदालत में दाखिल की है। इस मामले में अब तक 165 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। साधुओं की हत्या के मामले में 808 संदिग्धों से पूछताछ की जा चुकी है।