ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
श्रीबालाजी सत्यधाम पीठाधीश्वर प्रेमजी महाराज ने खतौली वासियों से श्रावण मास में सर्वकल्याणार्थ सवा करोड़ श्री हनुमान चालीसा पाठ का खुद ही आयोजन करने का आहवान किया
July 8, 2020 • Havlesh Kumar Patel • National


शि.वा.ब्यूरो, गोरखपुर। श्रीबालाजी सत्यधाम पीठाधीश्वर प्रेमजी महाराज ने अपनी पूर्व कर्मस्थली खतौली में श्रावण के पुनीत मास में सर्वकल्याणार्थ सवा करोड़ श्री हनुमान चालीसा पाठ के आयोजन की इच्छा जताई है। उन्होंने अपनी कर्मस्थली खतौली वासियों से श्रावण मास में सर्वकल्याणार्थ सवा करोड़ श्री हनुमान चालीसा पाठ का खुद ही आयोजन करने का आहवान किया है। प्रेमजी महाराज ने शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र के कार्यकारी सम्पादक का व्हाट्सएप नम्बर 9457272439 जारी करते हुए अपील की है कि श्रावण के पुनीत मास में सर्वकल्याणार्थ सवा करोड़ श्री हनुमान चालीसा पाठ के आयोजन में सम्मलित होने के इच्छुक लोग  व्हाट्सएप नम्बर 9457272439 अपना निशुल्क पंजीकरण करा सकते हैं। 


श्रीबालाजी सत्यधाम पीठाधीश्वर प्रेमजी महाराज ने गोरखपुर के पंडित द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लेह में सिंधु नदी का दर्शन कराने पर हर्ष व्यक्त करते हुए कहा है कि चीन से बढ़ते तनाव के बीच जवानों का मनोबाल बढ़ाने अचानक लेह पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दर्शन-पूजन कराने वाले पंडित राकेश चौबे गोरखपुर के सिकरीगंज के धर्मनगर चौकड़ी के रहने वाले हैं। वह इन दिनों लेह में भारतीय सेना में धर्मगुरु पद पर हैं। प्रेमजी महाराज ने बताया कि पंडित राकेश चौबे ने वर्ष 2011-12 में सेना ज्वाइन की थी। प्रेमजी महाराज ने बताया कि पीएम के साथ दिखने वाली तस्वीर में राकेश सबसे किनारे हैं, जिनके हाथ में पूजन की डाली है। पीएम ने राकेश से पूजन समाप्त होने के बाद सिंधु नदी महोत्सव पर चर्चा भी की थी।


सिकरीगंज के चौकड़ी निवासी और बालाजी सत्यधाम हनुमान मंदिर के मुख्य ट्रस्टी प्रेमजी महाराज ने बताया कि राकेश उनके भतीजे हैं। राकेश के पिता कृष्णमुरारी चौबे गावं में ही रहते हैं। उन्होंने बताया कि पंडित राकेश चौबे द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लेह में सिंधु नदी का दर्शन कराने का समाचार टीवी पर देखकर परिवार वाले काफी खुश हुए। प्रेमजी महाराज ने बताया कि राकेश चौबे की शुरु से ही आस्था धर्म मे रही है और वर्तमान में वे सेना में धर्मगुरु पद पर कार्यरत हैं।