ALL social education poem OLD miscellaneous Muzaffarnagar UP National interview Himachal
सिरमौर इकाई द्वारा ऑनलाइन गुगल मीट पर काव्य गौष्ठी आयोजित
October 3, 2020 • Havlesh Kumar Patel • Himachal

राज शर्मा, आनी (कुल्लू) हिमाचल प्रदेश। गांधी जयंती के शुभ अवसर पर महिला साहित्यकार संस्था जिला सिरमौर इकाई द्वारा ऑनलाइन गुगल मीट पर काव्य गौष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत प्रतिभा ठाकुर ने-

पिता के बिना संतान का जीवन कैसा होता है, 
पर अपने दिल को मैंने संभाल लिया है,
आपकी तस्वीरों के सहारे ही बरसो गुजार लिया है। 

मार्मिक कविता सुना सभी को भावुक कर दिया ।

शिलाई क्षेत्र से हिमानी सिंह राणा ने साथियों मिल कर मतदान करें सुना सभी को जागरूक किया। सुनिता भारद्वाज 'अनाड़ी' ने तरन्नुम में गीत व गजलें पैश की-

उन वीरों को कभी न भूलेंगे,
लहू से जो इस माटी को सिंच गए

गांधी जी के वचनों पर चलने के लिए सभी को प्रेरित किया। जिला पुस्तकालयाध्यक्ष कान्ति सूद ने सभी को वीररस में डुबोया

बूढ़ी माताओं की गोदें, आतंकियों ने हैं उजाड़ी,
सुहागिनों की माँगें, वीरान हैं कीं ज़ालिमों ने

अमनदीप कौर ने नशे से दूर रहना है कवि अपनी मीठी वाणी में सुनाई तथा प्रदेशाध्यक्ष रीता सिंह के प्रति आभार प्रकट करते हुए उनके लिए सुंदर रचना भी प्रस्तुत की। गिरिनगर से वरिष्ठ कवियत्री साधना शर्मा ने 'नशा' ,टेलिविजन पर हास्य कविता, नारी इत्यादि बेहतरीन कविता सुना सभी को गाँधी जयंती की शुभकामनाएं दी।


महिला साहित्यकार संस्था जिला सिरमौर इकाई के इस कार्यक्रम की विशेषता यह रही कि यह कार्यक्रम पूर्ण रूप से महिलाओं द्वारा ही संचालित था। विशेष रूप से ऑनलाइन महिलाओं को जोड़ना और कार्यक्रम का निपुणता से संचालन करना, यह चुनौती पूर्ण कार्य रविता चौहान ने बखूबी संतुलन बना मंच संचालन का भी दायित्व निभाया। रविता चौहान सूचना संचार एवं  मीडिया प्रभारी के पद पर को निभाते हुए कार्यकारी महासचिव के पद पर विगत तीन वर्षों से संस्था से जुड़ी हुई हैं। रविता चौहान ने सभी महिलाओं को प्रेम भरे मुक्तक समर्पित किए व मंच संचालक की भूमिका निभाते हुए अपनी रचना भी अनोखे अंदाज में प्रस्तुत की।
कार्यक्रम की संयोजक सीमा ठाकुर ने बखूबी अपनी भूमिका निभाई और सभी महिलाओं को अपनी शक्ति समझने व जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। उन्होनें वीर रस में अपनी कविता हुनर नहीं मोहताज किसी का व सभी महिलाओं को समर्पित मधुर आवाज में 'माहिया'  सुना समां मुग्ध कर दिया। कार्यकारी अध्यक्ष व सुविख्यात कवियत्री शबनम शर्मा की अध्यक्षता में यह आयोजन सम्पन हुआ। अपनी रचना-

बांट सको तो बांट कर दिखाओ
मनुष्य से आत्मा को मंदिर से 
परमात्मा को बांट सको तो बांट लो

पेश करके सभी का मन मोह लिया। उन्होनें अपनी रचनाओं के साथ सभी महिलाओं को गांधी जयंती की शुभकामनाएं दी। जिला अध्यक्ष रीता सिंह ने गांधी जयंती व कार्यक्रम के सफ़ल आयोजन के लिए सिरमौर की सभी महिला साहित्यकारों को बधाई दी । कार्यक्रम में दर्जनों महिलाएं व दर्शक जुड़ें थे, जिन्होनें कार्यक्रम को सफ़ल बनाने में अपना योगदान दिया ।